top of page
  • Writer's pictureSachin Paul

ज्योतिष में रेट्रो ग्रह: जन्मकुंडली में रेट्रो ग्रह की पुरानी दुनिया को समझना।


ज्योतिष ने हमें हमारे जीवन और ब्रह्मांड के कार्यों की समझ में आने वाली एक अद्वितीय दृष्टि प्रदान करके हमें हमेशा मोहित किया है। ज्योतिष की एक रोमांचक विषयवस्तु रेट्रो ग्रह की अवधारणा है। इस लेख में, हम जन्मकुंडली में रेट्रो ग्रह की प्रभावशाली कार्यप्रणाली, प्रभाव, और महत्व को जांचेंगे, साथ ही कुछ दिलचस्प परिप्रेक्ष्य और विश्लेषण को भी शामिल करेंगे।


रेट्रो ग्रह की समझ

जब हमें पृथ्वी पर से देखने पर ग्रह अपने आकारभ्रम में पीछे की ओर चलने का अनुभव होता है, तो उसे रेट्रोग्रेड गति में होने कहा जाता है। ज्योतिष में, रेट्रो ग्रह का अलग ही ऊर्जा और प्रतीकता होती है जो हमारे जीवन पर प्रभाव डालती है और हमारे अनुभवों को आकार देती है।

रेट्रो ग्रह की कार्यप्रणाली: एक विचारधारा के अनुसार, जन्मकुंडली में रेट्रो ग्रह की उपस्थिति इसका संकेत देती है कि जातक ने पिछले जन्म में किसी व्यक्ति के लिए बाधा या अवरोध बने थे। यह दृष्टिकोण सुझाता है कि व्यक्ति को अपने वर्तमान जीवन में रेट्रो ग्रह द्वारा दिया गया है, जो एक कर्मिक सबक या विकास और परिवर्तन का अवसर होता है।


रेट्रो ग्रह का प्रभाव

रेट्रो ग्रह का प्रभाव विशेष ग्रह और जन्मकुंडली में इसकी स्थानांतरण के आधार पर भिन्न हो सकता है। कुछ ज्योतिषी यह मानते हैं कि रेट्रो ग्रह अपनी प्राकृतिक विशेषताओं के विपरीत कार्य करते हैं। उदाहरण के लिए, रेट्रोग्रेड बुध देरी या संचार में चुनौतियों को लाएगा, जबकि रेट्रोग्रेड मंगल आंतरिक और कम सक्रिय ऊर्जा लाएगा।


रेट्रो ग्रह का महत्व

जन्मकुंडली में रेट्रो ग्रह व्यक्ति के अनुभवों में विशेष महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं। वे आत्म-परीक्षा, चिकित्सा और परिवर्तन के लिए एक अवसर प्रदान करते हैं। रेट्रो ग्रहों के प्रभाव को समझने से व्यक्ति अपने जीवन में जागरूकता के साथ चलने और सूचित निर्णय लेने में सक्षम होते हैं।

रेट्रो ग्रह पर अलग दृष्टिकोण: हालांकि, रेट्रो ग्रहों के विपरीत राशि में कार्य करने के सिद्धांत को व्यापक रूप से स्वीकार किया जाता है, लेकिन यह ध्यान देने योग्य है कि चन्द्रमा के नक्षत्रों, राहू और केतु के साथ यह सिद्धांत लागू नहीं होता है। राहू और केतु आध्यात्मिक ग्रह माने जाते हैं और उनका रेट्रो गति के साथ अपना अलग महत्व होता है।


आश्चर्यजनक, मजेदार और व्यापक दृष्टिकोण

ज्योतिष विज्ञान वास्तव में एक अद्भुत और मनोरंजक विज्ञान है, और रेट्रो ग्रह की अवधारणा इसे और भी रोचक बनाती है। इस लेख के माध्यम से हम रेट्रो ग्रह के महत्वपूर्ण पहलुओं को समझेंगे और अपनी जन्मकुंडली के साथ जुड़े यातायातिक पैटर्न और अवसरों को खोजेंगे।


ज्योतिष ने हमें अपने पिछले जन्मों के कार्यों की समझ, वर्तमान जीवन में उनके प्रभाव की जांच, और आगामी भविष्य के लिए तैयार रणनीति बनाने में मदद की है। रेट्रो ग्रह की विशेषताओं को समझने से हम अपनी जीवन की महत्वपूर्ण घटनाओं को समझ सकते हैं और उनके साथ एक प्रभावशाली और सक्रिय जीवन जी सकते हैं।


अस्त्रोलॉजी विषय पर विभिन्न व्याख्याओं की संभावना होती है और व्यक्तिगत अनुभव भिन्न हो सकते हैं। यह लेख सामान्य जानकारी प्रदान करने का उद्देश्य रखता है और पेशेवर ज्योतिषी के व्यक्तिगत सलाह की जगह नहीं लेनी चाहिए। व्यक्तिगत सलाह और चर्चा के लिए ज्योतिषाचार्य डॉ. आर.पी. चुघ से संपर्क करें: www.saraljyotishlearning.com

11 views0 comments

Comments


bottom of page